IAS की तैयारी छोड़ हीरो बने थे चंद्रचूड़ सिंह, ‘दाग- द फायर’ के बाद ऐसा हुआ जो किसी भी एक्टर के साथ ना हो

IAS की तैयारी छोड़ हीरो बने थे चंद्रचूड़ सिंह, ‘दाग- द फायर’ के बाद ऐसा हुआ जो किसी भी एक्टर के साथ ना हो

Chandrachur Singh : दोस्तों ऐसे लोगों का फिल्मों में आना बहुत कठिन होता है जिनका पहले से फिल्म इंडस्ट्री में कोई जान पहचान का नहीं हो। ऐसी कहानी आपने बहुत सुनी होगी जिसमें चंद्रचूर सिंह भी एक नाम है। चंद्रचूड़ सिंह हाल ही में अक्षय कुमार की कठपुतली में नजर आए हैं और इसी वजह से यह सुर्खियों में बने हुए हैं। आज हम इन्हीं के बारे में आपको बताएंगे कि कैसे एक यूपीएससी की तैयारी करने वाला लड़का मुंबई आकर फिल्मों में काम करने लगा और उसके साथ आगे क्या हुआ।

chandra

Chandrachur Singh : फिल्मों में आने से पहले ये किया करते थे चंद्रचूड़ सिंह

चंद्रचूर सिंह का जन्म उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में 11 अक्टूबर 1968 को हुआ था उनके हालात कभी ऐसे नहीं थे कि वे फिल्मों में आने की सोचे। हालांकि चंद्रचूड़ सिंह को बचपन से ही एक्टिंग का और गाने गाने का शौक था इसीलिए उन्होंने क्लासिकल सिंगिंग में ट्रेनिंग भी ली और और कुछ नाटकों में एक्टिंग भी किया करते थे। इसके अलावा अपनी रोजी रोटी के लिए वह पढ़ाया करते थे। दिल्ली की एक स्कूल में उन्होंने म्यूजिक क्लासेस देना शुरू किया था और देहरादून के स्कूल में उन्होंने हिस्ट्री की पढ़ाई भी करवाई। इसके अलावा उनका सपना आईएएस बनने का था इसके लिए वह यूपीएससी की तैयारी भी कर रहे थे।

cuttputli

Chandrachur Singh : डेब्यू फिल्म के लिए 8 साल करना पड़ा इंतजार

यूपीएससी की तैयारी करते हुए हैं उनको फिल्मों के ऊपर आने लगे तो यह सब कुछ छोड़कर मुंबई आ गए। 1988 में मुंबई आने के बाद 1990 में उनको पहली फिल्म आवारगी में काम करने का मौका मिला लेकिन आधी शूटिंग पूरी हो जाने के बावजूद भी यह फिल्म बीच में रुक गई। इसके अलावा कुछ और फिल्मों में भी चंद्रचूड़ सिंह ने काम किया था लेकिन वह फिल्में भी रिलीज नहीं हो पाई तो थक हार कर यह वापस जाने का फैसला करने लग गए थे।

जया बच्चन और गुलजार साहब से मिली सहायता

चंद्रचूड़ सिंह को जब काफी समय से काम नहीं मिल रहा था तो अचानक एक दिन जया बच्चन ने उन्हें एक मौका दिया तथा फिल्म ‘तेरे मेरे सपने’ के लिए ऑडिशन के लिए बुलाया। इस फिल्म में उनका चयन हो गया था और उसके बाद गुलजार साहब ने भी चंद्रचूड़ सिंह को अपनी फिल्म ‘माचिस’ के लिए साइन कर लिया। तेरे मेरे सपने फिल्म से डेब्यू करने के बाद में उनको इस फिल्म के लिए फिल्म फेयर में बेस्ट मेल डेब्यू का अवॉर्ड दिया गया। इसके बाद में उन्होंने बहुत सारी अच्छी-अच्छी फिल्में की।

2001 में गोवा इनका एक्सीडेंट हो गया था और उसके बाद उनके करियर पर ब्रेक लग गया। कंधे में काफी ज्यादा चोट लग जाने के कारण वे ज्यादा हिलडुल नहीं सकते थे और इसी वजह से वह फिल्मों से दूर हो गए और अपना वजन भी काफी बढ़ा लिया। इतनी सब मुसीबतों के बावजूद 2012 में उनकी फिल्मों में वापसी हुई। 2020 में ‘आर्या’ नामक वेब सीरीज से काफी शानदार वापसी की। और अब अक्षय कुमार के साथ फिल्म कठपुतली में नजर आए है।

Durga Pratap

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *