जानिये कितनी शोहरत कमाई हैं स्वर कोकिला – लता मंगेशकर ने

इंडस्ट्री को 25,000 से भी ज्यादा हीट गाने देने वाली, कई पुरस्कारों से सम्मानित लता मंगेशकर को संगीत प्रेमी सूर की देवी मानते हैं। उन्होंने अपने जीवन में जो प्यार और सम्मान कमाया हैं, वो उनकी सबसे बड़ी सम्पत्ति हैं।

उनकी आवाज, उनकी कला, और संगीत पर उनकी पकड़ का आज भी कोई मुकाबला नहीं कर सकता। संगीत प्रेमी मानते हैं, कि लता मंगेशकर चलती फिरती संगीत की पूरी युनिवर्सिटी हैं।

संगीत की दुनिया में लता मंगेशकर का सफर सन 1949 में खेमचंद प्रकाश के ‘आयेगा आनेवाला’ गाने से हुई। अपने पहले गाने से ही लता जी ने लोगों के दिलो में अपनी पहचान बनाना शुरु कर दी थी।

आगे चलकर, अपने करियर में वे श्रोताओं और संगीतकारों की पहली पसंद बन गई। लता जी ने आर. डी. बर्मन, एस. डी. बर्मन, ओ. पी. नय्यर, शंकर जय किशन और नौशाद अली जैसे कई संगीतकारों के साथ काम किया हैं।

‘लग जा गले’, ‘एक प्यार का नगमा हैं’, ‘ऐसा देस हैं मेरा’ जैसे लता जी के कई गाने आज की पीढ़ी के भी दिलों पर राज करते हैं। लता मंगेशकर ने चार दशकों तक सिनेमा जगत में अपनी आवाज से राज किया हैं। 

एक रिपोर्ट के अनुसार वे $50 मिलियन सम्पत्ति की मालकिन हैं। भारतीय रुपए में उनकी सम्पत्ति की कुल किमत ₹  368 करोड़ हैं। यह सम्पत्ति उन्होंने सालों तक अपने चाहने वालों को हिट गाने देकर कमाई हैं।

घर व गाड़ियां 

लता मंगेशकर, मुंबई में अपने आलिशान घर में रहती हैं। उनका घर पेडर रोड स्थित प्रभुकुंज भवन में हैं। ये दक्षिण मुंबई के सबसे महंगे इलाकों में से एक हैं। इसके अलावा लता दीदी के पास शानदार गाड़ियों का कलेक्शन भी हैं। उनके पास शेवरले, ब्यूक और क्रिसलर जैसी महंगी गाड़ियां हैं। 

वैसे तो लता दीदी ने कई शानदार गानों से लोगों के दिल जीते हैं और फिल्मों को हिट बनाया हैं। पर फिल्म वीर ज़ारा की सफलता के बाद, फिल्म के निर्माता यश चोपड़ा इतने खुश हुए कि उन्हें मर्सिडीज कार गिफ्ट कर दी। इस फिल्म की जबरदस्त सफलता के पीछे, अभिनेताओं की मेहनत के अलावा, गानों की भी अहम भूमिका थी, जिन्हें गाने वाली लता मंगेशकर थी।

60 से ज्यादा उम्र में भी उन्होंने ‘वीर ज़ारा’, ‘कभी खुशी कभी गम’, ‘हम आपके हैं कौन’, ‘दिल वाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ जैसी कई फिल्मों में ऐसे गाने गाए हैं, जिससे लोग प्रभावित ही नहीं होते, बल्कि आश्चर्यचकित भी रह जाते हैं।

पुरस्कार व सम्मान 

स्वर कोकिला लता मंगेशकर को कई सम्मानों व पुरस्कारों से नवाज़ा गया हैं। इनमे से सबसे उपर आता हैं – भारत रत्न। लता दीदी, एम.एस. सुब्बुलक्ष्मी के बाद भारत रत्न पाने वाली दूसरी गायिका हैं।

इसके अलावा उन्हें पद्म भूषण व पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया गया हैं। दादासाहेब फाल्के पुरस्कार, महाराष्ट्र भूषण पुरस्कार, NTR राष्ट्रीय पुरस्कार, ANR राष्ट्रीय पुरस्कार जैसे कई पुरस्कार उनकी झोली में हैं।

इसके अलावा उन्हें 3 बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया हैं। यह पुरस्कार उन्हें फिल्म – ‘परिचय’, ‘कोरा कागज़’ और ‘लेकिन’ के लिये मिले हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *