बच्चे के नाम पर खुलवाए PPF Account एक निश्चित अवधि के बाद मैच्योरिटी पर मिलेंगे 32 लाख

बच्चे के नाम पर खुलवाए PPF Account एक निश्चित अवधि के बाद मैच्योरिटी पर मिलेंगे 32 लाख

दुनिया में हर मां-बाप को सबसे पहले चिंता होती है अपने बच्चों के भविष्य की. वह अपना बच्चा पैदा होने से पहले ही उसके भविष्य के बारे में सोचने लग जाता है. हर माता-पिता की इच्छा होती है कि उनके बच्चों का जीवन सुखी हो, अच्छी शिक्षा हो और शादी का तनाव न हो. अगर आप भी परेशान हैं तो बच्चे के जीवन को बेहतर बनाने के लिए सही समय पर निवेश की योजना बना सकते हैं. इसके लिए सरकार एक नई स्कीम लेकर आई है.

सरकार की इस योजना के अनुसार आप कभी भी अपने बच्चे का खाता खोल सकते हैं और जब चाहें निवेश करना शुरू कर सकते हैं. इसके लिए आपको किसी भी अधिकृत बैंक शाखा में जाकर बच्चे का पीएफ खाता खुलवाना पड़ेगा अगर घर के पास कोई शाखा है, तो आपको वहां पीपीएफ खाता खोलने की सुविधा होगी. भविष्य में इसे बनाए रखना भी आसान होगा.

पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) आपके बच्चे के भविष्य को सुधारने के लिए काफी हद तक आपकी मदद करेगा. आपको अपने नाबालिग बच्चे के लिए सही समय पर एक पीपीएफ खाता खोलना होगा और एक निश्चित राशि जमा करनी होगी. अगर आप हर महीने पैसे जमा करने की आदत डाल लेते हैं तो बच्चे के वयस्क होने पर बड़ी रकम जुटाई जा सकती है.

बच्चे का PPF खाता खोलने के लिए आप अपना वैध पासपोर्ट, स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र, आधार, राशन कार्ड विवरण पते के प्रमाण के रूप में दे सकते हैं. आपको अपने नाबालिग बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र देना होगा.अब हम आपको इसके फायदे के बारे में बताते हैं. मान लीजिए नाबालिग बच्चा 3 साल का है और आपने पीपीएफ खाता खोलकर निवेश करना शुरू कर दिया है.

पीपीएफ खाता तब परिपक्व होगा जब बच्चा 18 वर्ष की आयु प्राप्त कर लेगा.बाद में आप चाहें तो इसे बढ़ा भी सकते हैं, लेकिन अब हम 15 साल का हिसाब लेते हैं. आपने बच्चे के PPF खाते में हर महीने 10,000 रुपये जमा करना शुरू किया. यह रकम आपको 15 साल तक हर महीने जमा करनी होती है. अब अगर 7.10 फीसदी की दर से रिटर्न जोड़ा जाए तो पीपीएफ खाते के मैच्योरिटी पर बच्चे को 32 लाख रुपए मिलेंगे. यह रकम बच्चे के 18 साल के होने पर मिलेगी. जो कि बच्चे की हर फिदा को पूरा करने के लिए पर्याप्त है.

Mahaveer Nagar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *