पेट्रोल पंप पर आपके साथ भी हो रही हैं ठगी , कैसे पता चलेगा ?

पेट्रोल पंप पर आपके साथ भी हो रही हैं ठगी , कैसे पता चलेगा ?

लेकिन अगर इतना महंगा पेट्रोल या डीजल खरीदने के बावजूद पेट्रोल पंप वाले आपके साथ किसी तरह से ठगी करें तो आपको इससे काफी मायूसी होगी।ठगी से मतलब है।आपने जितने रुपए का पेट्रोल अपने वाहन में भरने के लिए कहा था। आपसे पैसे उतने ही वसूले जाएं लेकिन उसके एवज में उतने रुपए का पेट्रोल ना भरा जाए तो ऐसे में किसी भी शख्स को गुस्सा आ सकता है। ऐसी लापरवाही से बचने के लिए आपको पेट्रोल पंप पर बेहद सावधान होकर पेट्रोल डीजल भरवाना चाहिए.

कई बार ऐसा कुछ होता है जब हमें लगता है कि हमारे साथ ठगी की जा रही है,क्योंकि हमें उसके विषय में जरा भी जानकारी नहीं होती। आपने अक्सर देखा होगा कि पेट्रोल कर्मी आपके वाहन में पेट्रोल डालते समय नोजल की नोब को बार-बार दबाता नजर आता है ।वही कई बार वो नोजल को वाहन में लगाकर छोड़ देता है और जब पेट्रोल दर्ज की गई मात्रा में भर दिया जाता है तो उसे वाहन से निकाल देता है।

वही जब वो नोजल को वाहन को लगाकर छोड़ देता है तो उस दौरान हमें लगता है कि ये सही है लेकिन वही जब वो नोजल को वाहन ने बाहर लगाने के बाद भी उसे पकडे रहे और उसकी नोब को बार-बार दबाता नजर आए तो ऐसे में हमें शक हो जाता है कि वो ठगी कर रहा है। शायद आपको भी ऐसा ही महसूस होता होगा।

जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं होता।असल में जब पेट्रोल पंप कर्मी वाहन में पेट्रोल भरते समय नोजल की नोब को बार-बार दबाता नजर आता है तो उस दौरान वो पेट्रोल पंप मशीन से आ रहे, पेट्रोल के प्रेशर को नियंत्रित कर रहा होता है ।अगर पेट्रोल मशीन में पहले से कोई गड़बड़ी नहीं कर रखी होगी तो नोजल की नोब को बार-बार दबाने से पेट्रोल कम या अधिक नहीं भरा जाएगा। उस दौरान उतना ही पेट्रोल भरा जाएगा जितना पेट्रोल कर्मी ने मशीन में पहले से दर्ज किया गया होगा।

कुछ बातो का ध्यान रख कर आप ठगी से बच सकते हैं

  • हमेशा मीटर को चेक करे की वो जीरो पर हैं या नहीं
  • पेट्रोल भरवाते समय आप कर्मचारी के सामने खड़े रहे
  • पेट्रोल भरवाते समय बातो पर ध्यान न दे

Monika Tripathi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *