आज अजय देवगन बॉलीवुड के लोकप्रिय अभिनेताओं में से एक माने जाते है, उनकी फैन फॉलोइंग भी लाखों में हैं। वे अपने किरदार को बखूबी निभाने वाले कलाकारो में गिनाए जाते है, यही नही अनगिनत हिट फिल्में दे कर अपना लोहा मनवा चुके हैं।

आज हम उन्हीं से जुड़े एक किस्से के बारे में बात करने जा रहे है, जब गुंडों ने अजय देवगन को बीच सड़क पर घेर लिया था और उनके पिता वीरू देवगन ने कैसे 200 फाइटर बुला कर अपना खोफ बनाया था।

अजय देवगन के फिल्मी कैरियर के बारे में

अजय देवगण ने 1991 में बॉलीवुड कैरियर की शुरुवात की थी, उनकी पहली फिल्मी थी “फूल और कांटे”। 30 वर्ष के फिल्मी कैरियर में वे हर बार दर्शकों का दिल जीता में कायम रहते थे। वे एक ऐसे कलाकार है जो रोमांटिक, एक्शन और फाइटिंग सभी प्रकार के रोल उनपे फीट बैठते हैं।

वीरू देवगन के निधन के बाद अजय देवगन का एक इंटरव्यू हुआ था वायरल

एक इंटरव्यू के अनुसार उन्होंने बताया था कि, उनके रियल जिंदगी में बहुत बार लोगों से मारा पीटा हुई है, और कई बार मार भी खाई हैं। यही नही कुछ मारपीट में तो 20,25 लोगों ने मिलकर मारा था।

 

अजय देवगन के साथ हो रही एक मारपीट को कैसे उनके पिता ने संभाला

एक इंटरव्यू में साजिद खान बताते है, एक दिन अजय अपने जीप से कही जा रहे थे, तभी एक पतली गली में घुस गए और उसी दौरान जीप के सामने एक बच्चा आ गया, उन्होंने तुरंत ब्रेक लगा दी थी।

पर बच्चे के डर से रोना सुन कर आस पड़ोस लोग इकट्ठा हो गए और उन्हें घेर लिया। और उन्हें बचाने के लिए 10 मिनट में अजय के पिता तक पहुंच गया और वह 150,200 फाइटर्स लेकर।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *