हेल्दी रहने के लिए करें अलसी, अजवाइन, ज़ीरा के चूर्ण का सेवन, जाने इसके फ़ायदे और सेवन का तरीक़ा…

Smina Sumra
9 Min Read
Alsi Ke Beej

Alsi Ke Beej>अगर आप भी पेट और पाचन से जुड़ी समस्याओं से परेशान है तो अलसी, अजवाइन और ज़ीरा के चूर्ण का सेवन कर सकते हैं। यह पेट संबंधी कई समस्याओं को दूर करेगा। जानिए इनके बारे में विस्तार से।

Fit and healthy: आज के समय में हर कोई ख़ुद को स्वस्थ रखना चाहता है। ख़ुद को स्वस्थ रखने के लिए लोग तरह-तरह की कोशिशें करते हैं। लेकिन अगर आप दवाइयों के बजाय प्राकृतिक चीज़ों के सेवन के द्वारा ख़ुद को स्वस्थ रखते हैं तो यह आपकी सेहत के लिए भी फायदेमंद होगा। अगर आप भी ख़ुद को हेल्दी और स्वस्थ रखना चाहते हैं तो इन तीन चीज़ों अलसी (Alsi), अजवाइन (Ajwaain) और ज़ीरा (Zeera) का सेवन कर सकते हैं। इन तीनों में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं। इन तीनों का चूर्ण बनाकर इनका सेवन करने से पेट से संबंधित रोग दूर होते हैं। आप वज़न कम करने के लिए भी इन तीनों का सेवन कर सकते हैं। आइए जानते हैं इनमें पाए जाने वाले पोषक तत्वों और उनके फ़ायदे के बारे में। साथ ही जानेंगे इनका चूर्ण कैसे बनाएं और उसका सेवन कैसे करें?

अलसी में पाए जाने वाले पोषक तत्व (Flax seeds nutritional value)

ऐसा माना जाता है कि सर्दियों के मौसम में अलसी के बीज का सेवन करना काफ़ी फायदेमंद होता है। क्योंकि इसके बीज की तासीर गर्म होती है। इसके बीच में ओमेगा 3 फैटी एसिड (Omega 3 fatty acid) भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा आयरन, प्रोटीन, जिंक, फॉस्फोरस, कैल्शियम और पोटैशियम भी पाया जाता है। साथ ही अलसी के बीज में विटामिन बी कॉन्प्लेक्स, विटामिन ई, मैग्नीशियम, प्रोटीन और फाइबर के गुण भी पाए जाते हैं।

अजवाइन में पाए जाने वाले पोषक तत्व (Celery nutritional information)

अजवाइन के सेवन से भी पाचन संबंधित समस्याएं दूर होती हैं। इसका भी सेवन सर्दियों के मौसम में किया जाता है। वैसे ज़्यादातर लोग इसका इस्तेमाल पराठे और सब्जियों इत्यादि में करते हैं। अजवाइन (flax seeds ajwain and cumin seeds benefits in hindi) में नियासीन, थायमीन, सोडियम, फॉस्फोरस, पोटेशियम और कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। साथ ही अजवाइन में कार्बोहाइड्रेट, फैटी एसिड, फाइबर और प्रोटीन जैसे पोषक तत्व भी पाए जाते हैं। अजवाइन एंटीऑक्सीडेंट फाइबर से भरपूर होता है। इसी वजह से इसके सेवन से कई समस्याएं दूर होती हैं।

ज़ीरा में पाए जाने वाले पोषक तत्व (Cumin seeds nutritional value)

कोई ऐसा किचन नहीं है जहां ज़ीरा (Weight Loss With flaxseeds) का इस्तेमाल ना किया जाता हो। जीरा की गिनती भी गर्म तासीर वाले सामग्री में किया जाता है। ज़ीरा मैग्नीशियम, आयरन, कैल्शियम और फास्फोरस जैसे पोषक तत्वों से समृद्ध होता है।

इसके अलावा ज़ीरा में विटामिन ई, ए, सी, के और विटामिन बी 6 पाए जाते हैं। ज़ीरा सोडियम, पोटैशियम, कार्बोहाइड्रेट और डाइटरी फाइबर से भी भरपूर होता है। इसलिए इसका इस्तेमाल कई समस्याओं को दूर करने में किया जाता है।

ज़ीरा, अजवाइन और अलसी (flax seeds ajwain and cumin seeds benefits in hindi) के सेवन के फ़ायदे (Benefits of flax seeds, ajwain and cumin seeds)

अलसी, अजवाइन और ज़ीरा (Alsi Ke Beej) कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। इसके सेवन से कई स्वास्थ्य लाभ प्राप्त होते हैं। इन तीनों के कई फायदें हैं जैसे:-

1. गैस और कब्ज़ में मिलेगा आराम:-

अगर आप रात को सोते समय अलसी, अजवाइन और ज़ीरा का चूर्ण लेते हैं तो इससे गैस और कब्ज़ जैसी समस्याओं से आराम मिलेगा। इनमें फाइबर की मात्रा पाए जाने के कारण यह मल त्याग की प्रक्रिया को आसान बनाते हैं। इनके सेवन से पाचन तंत्र मज़बूत होता है और गैस एसिडिटी जैसी समस्या बहुत ही आसानी से दूर हो जाती है।

2. मोटापा कम होगा:-

अलसी, अजवाइन और ज़ीरा के सेवन से मोटापा (obesity) भी कम होता है। इनके सेवन से शरीर से अतिरिक्त चर्बी दूर होती है। इसलिए इसे वेट लॉस डाइट (weight loss diet) में भी शामिल किया जा सकता है।

3. पाचन तंत्र में सुधार होगा:- 

अलसी, अजवाइन और ज़ीरा (Alsi Ke Beej) पेट के लिए काफ़ी फायदेमंद साबित होता है। दरअसल ज़ीरा में एंटीऑक्सीडेंट जैसे गुण पाए जाते हैं जो पाचन क्रिया को मज़बूत बनाने में सहायक होते हैं।

4. शरीर की गंदगी निकलेगी:-

अगर आप सोते समय अलसी, अजवाइन, ज़ीरा का चूर्ण (Body detox powder) खाते हैं तो इससे सुबह के समय पेट आसानी से साफ़ हो जाता है। यह शरीर में जमा हुए गंदगी को निकालने का काम करता है। अलसी, अजवाइन, ज़ीरा शरीर को डिटॉक्स करने में मदद करता है। शरीर डिटॉक्स होने से त्वचा में भी निखार आती है।

5. त्वचा के लिए होगा फायदेमंद:- 

अलसी, अजवाइन और ज़ीरा के सेवन से शरीर में जमा गंदगी बाहर निकल जाती है। शरीर से गंदगी बाहर निकल जाने की वजह से त्वचा भी निखरती है। इसके सेवन से त्वचा से जुड़ी हुई और भी समस्याएं दूर होती है। ऐसा कहा जाता है कि अगर आपकी पित्त प्रकृति है तो इसका सेवन नहीं करना चाहिए। क्योंकि गर्म तासीर के होते हैं इसलिए इनके सेवन से शरीर में होती बढ़ती है। जिससे समस्या और भी बढ़ जाएंगी।

इसके अलावा अलसी, अजवाइन ज़ीरा (Alsi Ke Beej) के चूर्ण के सेवन से ह्रदय स्वस्थ रहता है और शुगर भी कंट्रोल रहता है। अगर आपको मासिक धर्म में अनियमितता की समस्या है तो भी आप इस चूर्ण का सेवन कर सकते हैं। वहीं दूसरी ओर अगर आपको कोई गंभीर बीमारी है तो बिना डॉक्टर की सलाह के इस चूर्ण का सेवन ना करें।

अलसी, अजवाइन, ज़ीरा के सेवन से होने वाले नुकसान (Side effects of alsi, ajwain, jeera powder) 

दरअसल ये तीनों गर्म तासीर के होते हैं इसलिए बहुत ज़्यादा मात्रा में इसका सेवन नहीं करें। वर्ना आपके शरीर को नुकसान भी हो सकता है। आप चाहे तो डॉक्टर से भी इनके सेवन के बारे में सलाह ले सकते हैं। अगर आप अधिक मात्रा में इस चूर्ण का सेवन करते हैं तो आपको सीने और पेट में जलन जैसी समस्याएं हो सकती हैं। तो वही बहुत लोगों को इसके सेवन से एलर्जी भी हो जाती है। आयुर्वेद के मुताबिक़ अगर आप पित्त प्रकृति के हैं तो इसके सेवन से आपका पित्त बढ़ सकता है। जो कई बीमारियों का वजह बनेगा।

अलसी, अजवाइन और ज़ीरा का चूर्ण कैसे बनाएं ? (How to make alsi, ajwain jeera powder)

अलसी, अजवाइन और ज़ीरा का चूर्ण बनाना बहुत ही आसान है। इसके लिए सबसे पहले आप अलसी, जीरा और अजवाइन को अलग-अलग तवे पर भून लें। हल्का भूनने के बाद ठंडा कर इसे एक साथ मिक्सी में डालकर महीन पीस लें। अब आप इस चूर्ण का सेवन आसानी से कर सकते हैं।

अलसी, अजवाइन और ज़ीरा के चूर्ण का सेवन कैसे करें? (How to consume alsi, ajwain and jeera powder)

आप हर रोज़ सुबह में खाली पेट या रात में सोते समय गर्म पानी के साथ एक चम्मच चूर्ण का सेवन कर सकते हैं। आप चाहे तो इसकी मात्रा के बारे में डॉक्टर से भी सलाह ले सकते हैं।

 

 

 

 

 

Share This Article
Leave a comment