शाहरुख़ के साथ खड़ा हुआ पाकिस्तान दे दिया भारत छोड़ कर पाकिस्तान में बसने की सलाह

शाहरुख़ के साथ खड़ा हुआ पाकिस्तान दे दिया भारत छोड़ कर पाकिस्तान में बसने की सलाह

मुंबई क्रूज रेव ड्रग्स पार्टी मामले में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की मुसीबतें बढ़ती जा रही है. बीते चार अक्टूबर से आर्यन एनसीबी की हिरासत में हैं. शाहरुख के बेटे को अब तक जमानत नहीं मिली है.

यह मुद्दा अब पड़ोसी देश पाकिस्तान में भी छाया हुआ है. पाकिस्तान के कई सेलेब्स और सेलिब्रिटी आर्यन खान की गिरफ्तारी मामले में शाहरुख का सपोर्ट कर रहे हैं. अब पाकिस्तान के मशहूर एंकर वकार जाका भी किंग खान के समर्थन में है. उन्होंने सोशल मीडिया पर ट्वीट करके अपना सपोर्ट दिखाया.

 

भारत छोड़ पाकिस्तान आने की दी सलाह

वकार जाका ने ट्वीट करके लिखा कि शाहरुख खान सर, आप भारत छोड़िए और अपने परिवार के साथ पाकिस्तान आकर बस जाइये. नरेंद्र मोदी सरकार आपके परिवार के साथ जो कर रही है, वह बिल्कुल गलत है. मैं शाहरुख खान के साथ खड़ा हूं.”

 

ट्रोलर्स के निशाने पर आये वकार

वकार जाका के इस ट्वीट के बाद कई लोग उसके सपोर्ट में आये. जबकि कुछ लोगों ने उन्हें सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल भी किया. कुछ यूजर्स ने वकार को पाकिस्तान की फिल्म इंडस्ट्री के खास्ता हालात बताकर ट्रोल किया.

30 अक्टूबर तक बढ़ी आर्यन खान की न्यायिक हिरासत

बता दें कि कोर्ट ने गुरुवार को आर्यन खान को एक और झटका लगा है. मुंबई की स्पेशल एनसीबी कोर्ट ने आर्यन सहित अन्य आठ आरोपियों की न्यायिक हिरासत को 30 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा दिया है. मालूम हो कि इस बार आरोपियों की कोर्ट में पेशी नहीं हुई.

लगातार तीसरी बार अनन्या पांडे से पूछताछ करेगी एनसीबी

ड्रग केस मामले में एक्ट्रेस अनन्या पांडे की भी मुश्किलें बढ़ती जा रही है. आज भी एनसीबी एक्ट्रेस से  पूछताछ करने वाली है. मुंबई क्रूज ड्रग केस में अनन्या से एनसीबी की टीम दो बार पूछताछ कर चुकी है. अनन्या पांडे को एनसीबी ने तीसरी बार पूछताछ के लिए  समन भेजा है.

एनसीबी का दावा है कि अनन्या और आर्यन के बीच ड्रग्स खरीदने ने संबंधित बातचीत हुई है.  एनसीबी को इसके खिलाफ कई सबूत मिले हैं.  दूसरी तरफ  इस मामले में एनसीबी के गवाह प्रभाकर साइल के खुलासे के बाद एनसीबी के जोनल डायरेक्टर मुंबई के पुलिस कमिश्नर को पत्र लिखाकर सुरक्षा की मांग की है.

Ranjana Pandey

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *