शाहरुख की मां के पास बची थी चंद सांसें, जानिए उन्हें बचाने के लिए किंग खान ने ऐसी क्या बात की, जिसका मलाल शायद उन्हें आज भी है

शाहरुख की मां के पास बची थी चंद सांसें, जानिए उन्हें बचाने के लिए किंग खान ने ऐसी क्या बात की, जिसका मलाल शायद उन्हें आज भी है

बॉलीवुड के बादशाह यानी किंग खान इन दिनों मुश्किल वक्त से गुजर रहे हैं। उनके बेटे आर्यन को ड्रग्स केस में जेल की हवा खानी पड़ रही है। जिसे लेकर वो काफी परेशान है। ना तो वो किसी से बात करते हैं और ना ही अपने प्रोजेक्ट्स पर ध्यान दे रहे हैं।

लेकिन ऐसा पहली बार नहीं है जब शाहरुख परेशानियों से घिरे हो। हर बार उन्हें परेशानियां घेरती हैं और उसमे से बचकर निकल जाते हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं शाहरुख खान के उस दौर की दास्तां जो शायद कम ही लोगों को मालूम होगी।

शाहरुख खान के फैन फॉलोइंग करोड़ों में है हर मुल्क में उनके दीवाने आपको मिल जाएंगे। लेकिन स्ट्रगल के दिनों में शाहरुख खान काफी मुश्किलों से आगे बढ़े। उनके लिए टीवी की दुनिया से निकलकर फिल्मी पर्दे पर छा जाना आसान ना था। किंग खान जब 15 साल के थे तो उनके सिर से पिता का साया उठ गया। अपने पिता के काफी करीब थे शाहरुख खान।

लेकिन किस्मत को शायद कुछ और ही मंजूर था। शाहरुख का ख्याल अब मां रख रही थी। लेकिन एक वक्त ऐसा भी आया जब शाहरुख की मां अपने आखिरी दिनों के करीब आ पहुंची। वो हॉस्पिटल के बेड पर थी और शाहरुख जानते थे कि वो नहीं बचेंगी। लिहाजा उन्होंने कुछ ऐसा किया जिसका उन्हें आज भी मलाल है।

शाहरुख को ऐसा लगता था कि जब तक किसी इंसान की आखिरी इच्छा पूरी नहीं हो जाती तब तक वो नहीं मर सकता। लिहाजा उन्होंने उनकी मां के सामने कुछ ऐसी बातें कहीं जो शायद किसी को भी अच्छी नहीं लगेगी। शाहरुख ने अपनी मां को कहा कि अम्मी यदि आप हमें छोड़कर चली जाएंगी तो मैं अपनी बहन की शादी नहीं करवाऊंगा यही नहीं मैं रोजाना शराब पीकर एक दिन अव्वल दर्जे का शराबी बन जाऊंगा।

शाहरुख को लगा कि जिम्मेदारियों से पीछा छुड़ाने की बात कहने से उनकी मां को लगेगा कि जब तक वो अपनी बेटी का निकाह ना करा ले तब तक जीने की उम्मीद ना छोड़ेगी। लेकिन ऐसा हुआ नहीं ऐसी बातें कहने के बाद भी शाहरुख की मां इस दुनिया में नहीं रही


एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में शाहरुख ने इस बात का जिक्र किया था कि उन्हें आज भी इस बात का मलाल है कि आखिरी वक्त पर उन्होंने अपनी मां से ऐसी दिल दुखाने वाली बातें कहीं।लेकिन उस वक्त यदि शाहरुख की जगह कोई और होता तो शायद वो भी वैसा ही करता। क्योंकि एक बेटे के लिए अपनी मां के दूर जाने का दर्द कोई दूसरा नहीं समझ सकता।

Deepak Pandey

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *