‘सुल्तान’ जैसा कोई नहीं, 21 करोड़ रुपए में खरीदने की लगी थी बोली, दिल का दौरा पड़ने से हुई थी मौत

‘सुल्तान’ जैसा कोई नहीं, 21 करोड़ रुपए में खरीदने की लगी थी बोली, दिल का दौरा पड़ने से हुई थी मौत

हमारा देश हैरतअंगेज चीजों से भरा हुआ है। कदम -कदम पर आपको ऐसी चीजें देखने और सुनने को मिल जाएंगी जिस पर यकीन कर पाना मुश्किल हैं।लेकिन ये चीजें सच होती हैं।ऐसी ही एक चीज हमें देखने को मिली थी एक भैंसे के रुप में। जिसकी पुष्कर मेले में किसी ने 1-2 नहीं बल्कि 21 करोड़ रुपए तक की कीमत लगाकर उसे खरीदना चाहा।

लेकिन इस भैंसे के मालिक ने इतनी बड़ी कीमत को भी लात मार दी।क्योंकि जिसकी कीमत लगाई गई थी उसे मालिक एक जानवर नहीं बल्कि अपने बेटे से भी बढ़कर मानते थे।इस भैसे का नाम था सुल्तान और इसके मालिक हैं नरेश ।पिछले महीने इस भैसे की हार्ट अटैक से मौत हो गई।आज हम आपको बताएंगे आखिर क्यों सुल्तान नाम के इस भैंसे ने ना सिर्फ अपने गांव बल्कि पूरे देश में नाम कमाया।

21 करोड़ी सुल्तान ने हर मेले में लूटी शोहरत
सुल्तान ने पुष्कर मेले में अपना नाम पहली बार दुनिया की नजर में लाया।उसके ढील ढौल और आकर्षक छवि को देखकर एक पशु सौदागर ने वो बोली लगा दी जिसकी शायद किसी को भी ऊम्मीद ना थी । ये बोली 21 करोड़ की थी लेकिन मालिक नरेश ने इस बोली को भी ठुकरा दिया. सुल्तान भैंसा साल 2013 में आयोजित हुई राष्ट्रीय पशु सौंदर्य प्रतियोगिता में झज्जर, करनाल और हिसार में राष्ट्रीय विजेता भी रह चुका है ।

कोई नहीं था दूसरा
सुल्तान जैसा ना कोई था और शायद ना कोई होगा । आज उसी के वजह से पूरे उत्तरी हरियाणा में उसके मालिक नरेश को लोग जानते हैं । बता दें कि नरेश ने सुल्तान को बचपन से पाला है और उसको अपने बच्चे की तरह-दुलार दिया था । लेकिन सुल्तान की मौत के बाद परिवार को उसकी कमी खलती है । सुल्तान की डाइट भी उसके शरीर के हिसाब से थी। वो रोजाना पालक, आलू, हरी सब्जियां और 10 किलो टमाटर खाता था। यही नहीं सुल्तान को हिंदुस्तानी मेवों का भी बड़ा शौक था। रोजाना 2 किलो मेवे सुल्तान के डाइट में शामिल होते थे । यही नहीं सुल्तान खाना खाने के बाद ब्रांडेड शराब भी बड़े चाव से पीता था।

म्यूजिक एलबम में किया काम

हरियाणा की म्यूजिक एलबम में सुल्तान ने अपना रोल अदा किया था। ये एलबम पूरे हरियाणा समेत आसपास के राज्यों में काफी हिट हुआ।

लाखों में बिकता था सीमन

आपको बता दें कि सुल्तान के सीमन से लाखों की कमाई होती थी । सालभर में सुल्तान 30 हजार सीमेन की डोनेट करता था । बता दें कि सुल्तान की मौत पर दुख जताने पशु प्रेमी दूर-दूर से पहुंचे थे ।

 

 

Chandan Pandey

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *