बॉलीवुड इंडस्ट्री के स्टार्स को पर्दे पर दर्शकों का मनोरंजन करते हुए तो हम सब ने देखा है. फिल्मों में बॉलीवुड सितारे अपनी कॉमेडी से लोगों को हंसाते हैं तो कुछ फिल्मों में अपने धमाकेदार एक्शन से लोगों का मनोरंजन करते नजर आते हैं।

ऐसा सबको लगता है कि बॉलीवुड के सितारे काफी खुशहाल जिंदगी व्यतीत करते है. उन्हें किसी भी चीज की कोई कमी नहीं होती और उनको किसी का दुख भी नहीं होता होगा लेकिन जैसा हमें लगता है ऐसा बिल्कुल भी नहीं है।

भले ही आपको बॉलीवुड के सितारे पर्दे पर हमेशा मुस्कुराते और मस्ती करते हुए नजर आते हैं लेकिन ऐसे कई सितारे हैं जिन्होंने अपनी जिंदगी में बहुत बुरे-बुरे दौर का सामना किया है। आज हम आपको बॉलीवुड के उन्हीं सितारों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने काफी कम उम्र में अपनी आंखो के सामने अपने बच्चो की मौत देखी. बहुत कम समय में उन्होंने बच्चो अपने जान से ज्यादा प्यारे बच्चों को खो दिया.

गोविंदा

बॉलीवुड के कॉमेडी और डांसिंग सुपरस्टार रहे हैं गोविंदा ने अपनी कॉमेडी से सबको हंसाया है. उनकी एक्टिंग का हर कोई दीवाना है.फिल्मों में अक्सर उन्हें दर्शकों को हंसाते उनका मनोरंजन करते देखा है. लेकिन क्या आप जानते है कि अपनी निजी जिंदगी में उन्होंने कितना बड़ा दर्द सहा है. उन्होंने बहुत कम समय में अपने बच्चे को खो दिया था. गोविंदा ने अपनी पहली औलाद को जन्म के 4 महीने बाद ही खो दिया था। गोविंदा और सुनीता को पहली औलाद बेटी के रूप में हुई थी लेकिन स्वास्थ्य वजहों के चलते उनकी बेटी की 4 महीने में मौत हो गई। जिसके बाद गोविंदा काफी तनाव में भी रहे.

अनुराधा पौडवाल

90 के दशक में अपने सुरो की आवाज से जादू चलाने वाली अनुराधा पौडवाल ने बीते साल ही अपने जवान बेटे आदित्य को खोया है। आदित्य पौडवाल पेशे से गायक थे और कई भजनों में और फिल्मों के गानों में अपना कमाल दिखा चुके थे। 35 साल की उम्र में किडनी फेलियर के कारण उनकी मौत हो गई।

कबीर बेदी

जब एक पिता को अपने बेटे की अर्थी को कंधा देना पड़े तो इस दुःख से बड़ा कोई उनके लिए नहीं होता। ऐसा ही दुःख कबीर बेदी ने भी अपनी ज़िंदगी में सहा है। कबीर बेदी के बेटे सिद्धार्थ ने 25 साल की उम्र में आत्महत्या कर ली थी। सिद्धार्थ बेदी सिजोफ्रेनिया नाम के मानसिक रोग के शिकार हो गए थे।कबीर ने सिद्धार्थ को बचाने की हर मुमकिन कोशिश की,लेकिन वो उन्हें बचा नहीं पाए और सिद्धार्थ ने आत्महत्या कर ली। कबीर बेदी के लिए ये दर्द किसी सदमे से कम नहीं था और वो पूरी तरह टूट गए थे।

मौसमी चटर्जी

70 के दशक की मशहूर एक्ट्रेस रही मौसमी चटर्जी पर भी अपनी औलाद को खोने का दर्द मिल चुका है. मौसमी भी अपनी बेटी को खो चुकी हैं। उनकी बेटी पायल जुवेनाइलडायबिटीज से पीड़ित थीं। उनका इलाज साल 2017 से चल रहा था। लंबे इलाज के बाद 2019 में उनकी 31 साल की बेटी पायल की मौत हो गई थी।

जगजीत सिंह

गजल किंग जगजीत सिंह के बेटे विवेक की एक कार एक्सीडेंट में मृत्यु हो गई थी। उस समय विवेक महज 20 साल के थे। बेटे की मौत से जगजीत और उनकी पत्नी चित्रा महीनों तक सदमे में रहे थे।इसी के बाद पॉपुलर सिंगर चित्रा ने गायकी को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया था।

महमूद

फिल्म जगत के दिग्गज सितारे रहे महमूदअब इस दुनिया में नहीं हैं। महमूद ने भी जवान बेटे मैक अली की मौत का सदमा झेला। जब महमूद के बेटे मैक अली संगीत की दुनिया में जगह बनाने की कोशिश कर ही रहे थे तभी उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। मैक ने महज 31 साल की उम्र में कार्डियक अरेस्ट की वजह से अपनी जान गंवा दी थी।

शेखर सुमन

शेखर सुमन भी अपने बच्चे को खोने का दर्द झेल चुके हैं। शेखर की शादी अलका से हुई थी। शादी के बाद उन्हें पता चला कि उनके बड़े बेटे आयुष को दिल से जुड़ी बीमारी है। उस वक्त शेखर के पास इतने पैसे नहीं थे कि वो अपने बेटे का इलाज करा पाए और 11 साल की उम्र में उनके बेटे का निधन हो गया।

राजीव निगम

कॉमेडियन एक्टर राजीव निगम ने साल 2020 में अपने बेटे को खो दिया है। राजीव के जन्मदिन के हीदिन 8 नवंबर को उनके बेटे देवराजका निधन हुआ है। एक्टर ने खुद इसकी जानकारी सोशल मीडिया पर देते हुए लिखा, वाह क्या गिफ्ट मिला है।

आशा भोंसले

सुरों की मल्लिका आशा भोसले तो अपने दो बच्चों को खोने का गम झेल चुकी हैं। आशा भोसले ने दो शादियां की। पहली शादी से उनके तीन बच्चे हुए। दो बेटे और एक बेटी। उनके सबसे बड़े बेटे का नाम हेमंत था, वहीं बेटी का नाम वर्षा था। जहां साल 2015 में हेमंत भोसले का निधन कैंसर की बीमारी की वजह से हो गया था। जबकि आशा भोसले की बेटी वर्षा ने साल 2012 में खुद को गोली मारकर 56 साल की उम्र में आत्महत्या कर ली थी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *