मुंबई।अपनी बेबाक बातों के लिए मशहूर अदाकारा कंगना रनौत ने योग को लेकर अपनी जीवन की सच्ची घटना बयां की है। जब उनसे योग के  ताकत के बारे में पूछा गया तो उन्होंने अपनी बहन रंगोली के साथ हुए हादसे का जिक्र किया। कंगना जब 19 साल की थी तब उनसे दो साल बड़ी बहन रंगोली पर किसी मनचले ने 1 लीटर तेजाब उड़ेल दिया।

इस हादसे रंगोली के पूरे जीवन को ही बदल दिया। जिस वक्त ये हादसा हुआ उस वक्त रंगोली टूट चुकी थी। उनकी सगाई एक एयरफोर्स ऑफिसर से हुई थी लेकिन जला हुआ चेहरा देखने के बाद उसने शादी से इनकार कर दिया।

इस वाक्ये ने रंगोली को अंदर तक तोड़ दिया था। कंगना को उस समय समझ में नहीं आ रहा था कि वो क्या करें। इसके बाद उन्होंने रंगोली को डॉक्टर को दिखाया, जहां ये पता चला कि रंगोली एक गहरे सदमे की गिरफ्त में हैं।  हादसे में रंगोली की बायां चेहरा, आंख, कान और ब्रेस्ट काफी हद तक डैमेज हो चुके थे।

3 साल में कुल 53 सर्जरी का सामना रंगोली को करना पड़ा। इसके बाद कंगना अपने योग टीचर सूर्यनारायण से रंगोली के बारे में चर्चा की। तब उन्हें पता चला कि योग की मदद से जलने, मनोवैज्ञानिक आघात और रेटिना ट्रांसप्लांट के बाद आंखों की रोशनी आने में भी मदद मिलती है।

फिर क्या था कंगना ने रंगोली को  हर जगह अपने साथ ले जाने लगी।योग क्लास में साथ में योग कराया।योग करते-करते रंगोली के जीवन में बड़ा बदलाव आया वो पहले की तरह मुस्कुराने लगी। यही नहीं उसकी एक आंख की रौशनी भी वापस आ गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *