बिहार के प्रसिद्ध किसानों के बीच एक औरत बनी किसान चाची, मिला पदम श्री सम्मान

Muskan Baslas
3 Min Read

Rajkumari Devi Become Kisan Chachi : मुख्यतः किसी भी देश के समाज की तरक्की उस समय मानी जाती है जब उस देश के पुरुषों के साथ-साथ उस देश की महिला भी अर्थिक रूप से योगदान करती हो. जिस तरीके से और सभी अन्य व्यापार में महिला का योगदान दिखाई पड़ता है उसी तरीके से कृषि के क्षेत्र में महिलाओं की काफी मुख्य भूमिका रही है. आज हम आपको एक ऐसी ही महिला के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे किसान चाची ( kisan chachi ) के नाम से जाना जाता है. इनका नाम राजकुमारी देवी ( rajkumari devi ) है. आइए जानते हैं लोग इनको किसान चाची क्यों कह्ते हैं.

किसान चाची ने अपने जीवन में बड़ी ही मुश्किलों का सामना किया है. अपने संघर्ष के बलबूते पर वह यहां तक पहुंची हैं. उन्होंने शुरुआत में सब्जी की खेती शुरू की थी और आज बिहार के प्रसिद्ध किसानो में उनका भी नाम आता है. बिहार की एक साधारण सी औरत से पद्म श्री ( kisan chachi fame rajkumari devi awarded by padam shree award )  पाने तक का सफर किसान चाची के लिए आसान नहीं था.

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि भारत एक कृषि प्रधान देश है. लेकिन कृषि प्रधान होने के साथ-साथ यह पुरुष प्रधान भी है. ऐसे में पुरुषों के साथ साथ राजकुमारी देवी का कृषि में योगदान देना समाज में औरतों के लिए बहुत बड़ी छाप छोड़ने वाला हिस्सा था.

यहां तक कि बिहार की कृषि विभाग के ट्विटर अकाउंट पर भी राजकुमारी देवी का शुक्रिया अदा किया गया है. राजकुमारी देवी का जन्म कुछ बड़ा करने के लिए हुआ था. उन्होंने बताया कि उनके पति खैनी बेचा करते हैं लेकिन साल 2008 में धीरे-धीरे परिवार की हालत खराब होने की वज़ह से उन्होंने सब्जियों की खेती करना शुरू किया.

धीरे-धीरे करके आज राजकुमारी महिलाओं के लिए एक इंस्पिरेशन बन चुकी है. आज लोग उन्हें सम्मान देते हैं. अपनी मेहनत से उन्हें पैसा तो मिला ही साथ ही में बहुत ज्यादा सम्मान भी मिला.

Read More :

क्यारा आडवाणी ने पहले ही सिद्धार्थ को कहा था अपना हसबैंड, वीडियो देखकर आप भी रह जाएंगे हैरान

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *