साउथ इंडस्ट्री की ये फिल्मे है अकेले में देखने लायक, जमकर भरें है बोल्ड सीन

साउथ इंडस्ट्री की ये फिल्मे है अकेले में देखने लायक, जमकर भरें है बोल्ड सीन

बॉलीवुड इंडस्ट्री में आपने कई तरह की फिल्में देखी होगी। जैसे कि एक्शन मूवीस, रोमांटिक मूवीस या फिर पारिवारिक फिल्में। लेकिन अब बॉलीवुड में ऐसे कई सारी फिल्में हैं, जिनमें बोल्ड सीन ऐड कर दिए जाते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि आजकल फिल्म की स्क्रिप्ट के साथ-साथ बोल्डनेस सीन का इस्तेमाल किया जाता है। ऐसी कई सारी फिल्में है जो कि हम अपने परिवार के साथ बैठकर देख तक नहीं सकते। लेकिन देखा जाए तो बोल्डेनेस का तड़का सिर्फ बॉलीवुड में ही नहीं होता बल्कि अब साउथ इंडस्ट्री में भी बोल्डनेस भर भर के दिखने लगी है।

यह तो आप सभी जानते हैं कि साउथ इंडस्ट्री में अपनी फिल्मों को हिट करने के लिए कई सारे एक्सपेरिमेंट किए जाते हैं, फिर बोल्ड अदाओं को दिखाना यह कैसे पीछे छोड़ सकते हैं? यहां तक की कई सारी फिल्मों में ऐसे-ऐसे इंटिमेट सीन है और आप उन फिल्मों को अपने परिवार के साथ बैठकर नहीं देख सकते। आइए हम आपको बताते हैं कि वह फिल्में कौन-कौन सी है?

साउथ इंडस्ट्री

गुरुदु 

गुरुदु यह फिल्म 2013 में रिलीज की गई थी इस फिल्म को देखा जाए तो इसमें इंटिमेट सीन्स के सारे रिकॉर्ड टूट चुके हैं। यहां तक कि आप गलती से भी इस फिल्म को अपने परिवार के साथ बैठकर नहीं देख सकते। इस फिल्म में ऋतु कौर और शिवाजी ने अहम किरदार निभाया था। सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि इस फिल्म में कई सारे बोल्डनेस सींस है, जिसे देखने के बाद हर किसी के होश उड़ जाते हैं।

चंद्रा 

चंद्रा फिल्म कन्नड़ और तेलुगु भाषा में रिलीज की गई थी। लेकिन हैरान करने वाली बात यह है कि इस फिल्म में दिखाए जाने वाले बोल्ड सीन को देखकर ऐसा लगता है कि बॉलीवुड तो काफी पीछे रह गया। इस फिल्म में श्रेया सरन और प्रेम कुमार ने कई सारे इंटिमेट सीन दिए हैं। यहां तक कि इंटिमेट सीन की सारी हदें ही पार कर दी।

मादा मारुग़म 

तेलुगु भाषा में आई मादा मारुग़म फिल्म ने अपने बोल्ड सीन्स से हर किसी को हैरान ही कर दिया है। दरअसल यह फिल्म 2010 के दौरान रिलीज हुई थी। बोल्ड सीन के कारण इस फिल्म ने उस वक्त पर काफी सारी सुर्खियां भी बटोरी थी। ऐसा कहा जाता है कि इस फिल्म के एक्टर्स ने अपनी सारी हदें ही पार कर दी थी।

थापु 

तमिल फिल्मों की लिस्ट में थापु फिल्म का नाम भी आता है। यह फिल्म भी 2010 के दौरान रिलीज हुई थी। ऐसा कहा जाता है कि रानी चतुर्वेदी ने इस फिल्म में बोल्ड सीन पर ज्यादा काम किया है। यह फिल्म भी परिवार के साथ देखने लायक नहीं है। यहां तक कि ऐसा कहा गया था कि 18 वर्ष से बड़े लोग ही इस फिल्म को देख सकते हैं।

Durga Pratap

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *